धर्मांतरण के आरोप में गिरफ्तार किए गए आरिफ हाशमी की मुश्लिकें ओर बढ़ गई है. इसके खिलाफ पुलिस ने कई धाराओं में केस दर्ज किया है. वहीं अब इनके खिलाफ एससी / एसटी ऐक्ट भी लगने वाला है. हाल ही में आगरा के थाना सदर क्षेत्र में पूर्व आईएएस अधिकारी की बेटी एवं होटल संचालिका ने अपना बयान दर्ज करवाया था. जिसमें बताया था कि कैसे आरिफ हाशमी ने उसे धोखा दिया और उसका धर्म परिवर्तन करवाया.

पीड़िता के अनुसार धर्म परिवर्तन करवाने के बाद उसके साथ मार पीट की गई. पीड़िता ने बताया कि उसका धर्म परिवर्तन वर्ष 2011 में अजमेर में कराया गया था. आरोपित ने वहाँ पर उससे निकाह भी किया था. इस पूरे मामले के बारे में इंस्पेक्टर सदर अजय कौशल ने बताया कि पीड़िता ने कोर्ट में दिए बयान में एफआईआर का समर्थन किया है. कोर्ट में पीड़िता ने कहा है कि आरिफ हाशमी ने उसका शारीरिक. मानसिक व आर्थिक शोषण किया है.

पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि वह डरा धमकाकर उससे रुपये मांगा करता था. होटल में अय्याशी किया करता था और उसके सम्बंध कई महिलाओं से थ. पीड़िता ने कोर्ट में कहा कि आरोपित इंसान नहीं राक्षस है. गला दबाकर उनकी हत्या का प्रयास किया था. उन्हें बेरहमी से पीटा करता था. अय्याश है.

इंस्पेक्टर सदर ने बताया कि आरोपित से पूछताछ में ये पता चला कि उसने पीड़िता का धर्म परिवर्तन अजमेर में कराया था. धर्म परिवर्तन धोखे से किया गया था. पीड़िता ने कभी अपनी पहचान नहीं बदली. जो नाम पहले था उस नाम से रह रही थीं. आरोपित को ये बात पसंद नहीं थी. उसने पीड़िता का मंदिर तक जाना बंद कर दिया था. पीड़िता के बयान के अनुसार आरोपित उन्हें जातिसूचक शब्द बोलकर अपमानित किया करता था. बात-बात पर उसे जाति का ताना मारता था. पीड़िता का कहना है कि वह उसकी हत्या तक करना चाहता था.

पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो पाया कि आरोपी शूटर सचिन कंजा को अच्छे से जानता था और उससे मिला करता था. अब इस मामले में पुलिस उसके मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाल रही है. साथ ही पुलिस सोशल मीडिया के जरिए भी आरिफ के बारे में अधिक जानकारी जुटाने में लगी हुई है.

बदमाशों से है सम्बंध

इस मामले में पुलिस ने कई लोगों से संपर्क भी किया है. जो कि आरिफ को जानते हैं. वहीं पुलिस को गोपनीय रूप से ये जानकारी मिली है कि आरिफ के पेशेवर बदमाशों से भी सम्बंध हैं. वह बदमाशों को शरण देना का काम करता था और उनकी आर्थिक रूप से मदद किया करता था. ये बदमाशों का हवाला देकर पीड़िता को डराया भी करता था. पुलिस इस मामले की ओर छानबीन कर रही है और आरिफ के खिलाफ ओर सबूत जमा करने में लगी हुई है.

गौरतलब है कि पुलिस ने आरिफ को गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया है. जबकि पीड़िता ने कोर्ट में अपना बयान भी दर्ज करवा दिया है. जिसमें उसने धर्म परिवर्तन की बात भी कबूली है और बताया है कि कैसे उसका धर्म परिवर्तन करवाया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *