जनाब हम बात कर रहे हैं. हिमाचल प्रदेश की उन वादियों की जहां हवाओं मे घुली मोहब्‍बत की खुशबू को आप भी महसूस कर सकते हैं. यहां आकर हर कोई इनकी खूबसूरती मे ढूब जाता है. हम आप को आज इस खूबसरत भरी जगह की एक ऐसी डरावनी तस्‍वीर दिखाएंगे जिसे देखकर अच्‍छों-अच्‍छों की रूह कांप जाती है.हम आप को मनाली-लेह मार्ग पर पड़ने वाले इस डरावनी जगह के बारे मे बताने जा रहे हैं जो आप के रोंगटे खड़े कर देगी .

मनाली यात्रा कर रहे हैं तो जरूर ध्यान रखें

मनाली लेह मार्ग अब खुल चुका है। पंजाब हरियाणा और चंडीगढ़ समेत अन्य राज्यों के लोग झुलसती हुई गर्मी से राहत पाने के लिए यहां का रुख  करने लगे हैं. इसी मार्ग पर है ऐसा स्थान जहां भूत के रहने का दावा किया जाता है. ऐसी मान्यता है कि यहां पर भूत को खुश करने के लिए सिगरेट और पानी की बोतलें चढ़ाई जाती हैं, ताकि लोगों की यात्रा सफल हो सके.यहां से निकलने वाले लोग इस भूत के स्थान पर मिनरल वाटर और सिगरेट रखकर ही आगे जाते हैं.

मनाली मार्ग पर ईंटो से बना है भूत का घर

हिमाचल के मनाली लेह मार्ग पर है गाटा लूप्स करीब 17,000 फिट की ऊंचाई पर वीरान पहाड़ और खामोशी एक अजीब सा अहसास करवाती है .यहीं पर है भूत का एक छोटा सा घर, यह घर कैसे बना इसकी एक अलग कहानी है। एक तो इस डरावनी जगह पर कोई जाता ही नहीं है, जो लोग इस जगह से गुजरते हैं, वह यहां भूत के इस रहस्यमयी स्थान के सामने मिनरल वाटर और सिगरेट रखकर ही आगे जाते हैं. ऐसा कहा जाता है कि ऐसा न करने पर लोगों को यात्रा में भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है.

क्या है इसका रहस्य ?

इस घटना के बारे में यहां के निवासियों की माने तो इस स्थान पर करीब 20 साल पहले एक ट्रक ड्राइवर की गाड़ी खराब हुई थी. उस समय ये मार्ग इतना व्यस्त नहीं था. एक दो गाडि़यां ही इस रूट से होकर जाती थीं. ड्राइवर अपने साथी क्लीनर को छोड़ कर पास के गांव में मदद मांगने के लिए चला गया. ड्राइवर जब मदद लेकर लौट ही रहा था. इस दौरान मौसम और खराब हो गया तथा भारी बर्फबारी के कारण रास्ता बंद हो गया. एक सप्ताह बाद बर्फीला तूफान थमा. ड्राइवर जब मदद लेकर लौटा, तब तक क्लीनर की भूख-प्यास और मौसम की वजह से मौत हो गई. उसकी लाश ट्रक के अंदर मिली थी.

अपने सहायक की मौत से दुखी ड्राइवर ने उसे उसी स्थान पर उसका अंतिम संस्कार कर दिया. जिस स्थान पर ट्रक खड़ा किया गया था उसी स्थान पर क्लीनर को दफन कर दिया गया. इस घटना के कुछ ही दिन बाद इस स्थान पर यहां से निकलने वाले लोगों के साथ अजीव एवं डरावनी घटनाएं होने लगीं. 

इस जगह पर एक लड़का लोगों को अकसर दिखने लगा, जो उनसे कुछ खाने और पीने को पानी मांगता. जो लोग उसे यह नहीं देते थे वह किसी न किसी हादसे का शिकार होने लगे. ऐसा कहा जाता है कि बाहर से आने वाले लोगों को इतनी ऊंचाई पर सांस लेने में दिक्कत के कारण मौत भी हो जाया करती थी. कई लोगों ने उस लड़के को पानी भी दिया, पर पानी की बोतल उसके हाथ से नीचे गिर जाती थी और वह बड़ी ही लाचार स्थित में वैसे ही आंखों में आंसू लिए लोगों से पानी और खाना मांगता रहता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *