फिल्म इंडस्ट्री जितनी साफ और चकाचौंध बाहर से नजर आती है अंदर से उतनी ही काली है। कई काली सच्चाई छिपी हुई है इस इंडस्ट्री में। बाहर की चकाचौंध देखकर लोग यहां खिंचे चले आते हैं और फिर यहां की असलियत जानने के बाद पूरी तरह से टूट जाते हैं। इस इंडस्ट्री में कई कठिनाइयां और बलिदान देने पड़ते हैं।

पर इतनी मेहनत और बलिदान देने के बाद भी कामयाबी की कोई गारंटी नहीं है। इतनी मेहनत करने के बाद भी जब सब कुछ हार कर वह घर आते हैं और किसी को कुछ नजर नहीं आता तो ऐसे में वह आत्महत्या कर बैठते हैं।

अभिनेताओं से ज्यादा अभिनेत्रियों का शोषण होता है इस इंडस्ट्री में। जो अभिनेत्रियां इस इंडस्ट्री में नयी होती है ना जाने उन्हें कितनी बार इस शोषण का शिकार बनना पड़ता है। यह हाल सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री का ही नहीं बल्की हर इंडस्ट्री का है। हाल ही में मलयालम अभिनेत्री रेवती सम्पत ने अपने सोशल मीडिया पर का खुलासा किया है कि 14 लोगों ने उनका यौन शोषण किया था।

इस के साथ ही उन्होंने उन लोगों के नाम भी बताएं। उन 14 लोगों का खुलासा उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट पर किया। इस लिस्ट में मशहूर अभिनेता सिद्दीकी नामा का भी नाम सामिल है।

इस लिस्ट में सिद्दिकी,डायरेक्टर राजेश और
DYFI लीडरन नंदी अशोकन के नाम भी है। आपको बता दें कि रेवती सम्पत ने अपने फेसबुक पर मलयालम में पोस्ट किया कि ‘मैं इस प्लेटफार्म पर प्रोफेशनल, व्यक्तिगत और साइबर स्पेस के जरिए शोषण करने वाले लोगों के नामों का जिक्र कर रही हूं. इन सभी लोगों ने मेरा शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से शोषण किया है’। रेवती के इस खुलासे के बाद पूरी मलयालम इंडस्ट्री को झटका लगा। कई लोग उनके समर्थन में भी आए वहीं दूसरी और कुछ ने इसे सिर्फ एक पब्लिसिटी स्टंट कहा।

इस लिस्ट में राजेश टचरिवर, सिद्दीकी, आशिक माही, अभिल देव, अजय प्रभाकर, एम. यसएसएस, शिजू ए आर, राकेंट पाई, सरुन लियो, सब इंस्पेक्टर बीनू (पुनथुरा पुलिस स्टेशन, त्रिवेंद्रम),सौरभ कृष्णन, नंदू अशोकन, मैक्सवेल जोस, शानूब करुवथ और चाकोस केक के नाम शामिल है.

रेवती सम्पत मलयालम की मशहूर अभिनेत्री हैं। इन्होंने फिल्म पटनागढ़ से अपना डेब्यू किया था। 2018 में आई फिल्म वक्त से इन्हें इनकी पहचान मिली। इस फिल्म को विष्णु उद्यन ने निर्देशित किया था। इसके बाद रेवती को कई फिल्मों के ऑफर आने लगे। अभिनेत्री होने के अलावा रेवती एक सामाजिक कार्यकर्ता भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *