शेफाली वाह! जी हां, 17 साल की शेफाली वर्मा के कारनामे सुनकर आप भी ऐसा ही कहेंगे .शेफाली वर्मा डेब्यू टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 50 या उससे ज्यादा रन बनाने वाली भारत की पहली महिला क्रिकेटर बन गई हैं. वह ऐसा करने वाली दुनिया की चौथी महिला क्रिकेटर बनी हैं. वह दोनों पारियों में 50+ रन बनाने वाली दुनिया की सबसे कम उम्र की महिला भी बन गई हैं.

छोटी उम्र में ही रच दिया इतिहास

इंग्लैंड के खिलाफ ODI में डेब्यू के साथ ही भारतीय महिला क्रिकेटर सेफाली वर्मा ने इतिहास रच दिया. 17 साल की शेफाली वर्मा भारत के लिए तीनों फॉर्मेट में डेब्यू करने वाली सबसे युवा क्रिकेटर बन गई हैं. वर्तमान में शेफाली की उम्र 17 साल 150 दिन है. उनसे पहले किसी भी भारतीय क्रिकेटर ने, महिला और पुरुष दोनों वर्गों में, इतनी कम उम्र में तीनों फॉर्मेट में नहीं खेला था. भारतीय क्रिकेट में ऐसा पहली बार हुआ है .

भारत की ओर से शेफाली वर्मा को कप्तान मिताली राज ने टीम इंडिया का कैप दिया. इसके साथ ही शेफाली विश्व क्रिकेट में तीनों फॉर्मेंट में डेब्यू करने वाली दुनिया की पांचवीं क्रिकेटर बन गई हैं.युवा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा अपने पदार्पण टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 50 से अधिक रन बनाने वाली भारत की पहली और दुनिया की चौथी महिला बल्लेबाज बन गयी हैं .

सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड की बराबरी की

शेफाली ने इसके साथ ही सचिन तेंदुलकर के एक रिकॉर्ड की बराबरी भी की .भारत में अब तक दो क्रिकेटर (सचिन तेंदुलकर और शेफाली वर्मा) ही ऐसे हुए हैं, जिन्होंने 18 साल की उम्र से पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 50+ रन का स्कोर किया. खास यह है कि दोनों का यह रिकॉर्ड इंग्लैंड की टीमों (पुरुष और महिला) के खिलाफ ही है. सचिन तेंदुलकर ने 1990 में टेस्ट की दोनों पारियों में 50+ रन का स्कोर बनाया था .उस समय उनकी उम्र 17 साल 107 दिन थी. शेफाली ने 2021 में जब यह रिकॉर्ड अपने नाम किया, तब उनकी उम्र 17 साल 139 दिन थी.

शेफाली वर्मा की उपलब्धियां

शेफाली ने यह उपलब्धि इंग्लैंड के विरुद्ध एकमात्र टेस्ट मैच के तीसरे दिन हासिल की। उन्होंने पहली पारी में 96 रन बनाये थे जबकि भारतीय टीम के फालोऑन के लिये उतरने के बाद वह तीसरे दिन चाय के विश्राम तक 55 रन पर खेल रही थी।

शेफाली से पहले यह उपलब्धि इंग्लैंड की लेस्ली कुक (72 एवं 117, बनाम भारत, 1986), श्रीलंका की वनीसा बोवेन (78 एवं 63, बनाम पाकिस्तान, 1998) और आस्ट्रेलिया की जेफ जॉनसेन (99 एवं 54, बनाम इंग्लैंड, 2021) ने हासिल की थी.

शेफाली वर्मा डेब्यू टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में भी चौथे नंबर पर पहुंच गईं हैं .खास यह है कि अभी वह क्रीज पर हैं. ऐसे में उनके पास रोहित शर्मा और लाला अमरनाथ जैसे दिग्गज क्रिकेटर्स का रिकॉर्ड तोड़ने का भी मौका है. शेफाली ने यह सारी उपलब्धियां इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच के तीसरे दिन यानी 18 जून 2021 को हासिल कीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *