हजारीबाग के कटक मसांडी मैं विचित्र आकृति को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। किसी ने इसे भूत-पिशाच व चुड़ैल कहा तो किसी ने एलियन की संज्ञा दे डाली। लोगों ने कहा कि किसी मानव की आत्‍मा भटक रही है। लोग रास्‍ता बदलकर जाते दिखे।

विचित्र मानव को देख सहमे लोग

झारखंड के हजारीबाग से एक आश्चर्यचकित करने वाला मामला सामने आया है I यहां हजारीबाग टू चतरा रोड छड़वा डेम के नए पुल पर कल रात्रि एक अजीबोगरीब प्राणी देखा गया है I हजारीबाग के कटकमसांडी विचित्र आकृति को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म रहा।

इस विचित्र प्राणी का सड़क पर घूमते हुए एक वीडियो भी वायरल हो रहा है I वीडियो देखने के बाद हर कोई अपना-अपना अनुमान लगा रहा है I जहां स्थानीय लोगों का कहना है कि यह एलियन है, तो वहीं कोई कह रहा है कि यह भूत है, तो कुछ लोगों का कहना है कि वह इंसान है और रात होने के कारण वीडियो में स्पष्ट दिखाई नहीं दे रहा है, लेकिन आमतौर पर इस तहर की आकृति इंसानों की नहीं होती है I

See Video :

क्या है पूरा मामला

कटकमसांडी  हजारीबाग में शुक्रवार देर शाम करीब साढ़े आठ बजे के करीब छड़वा डैम के नवनिर्मित पुल पर राहगीरों ने एक विचित्र मानव को चहलकदमी करते देखा। इस विचित्र लंबे कद के मानव, जो देखने में महिला जैसी लग रही थी, को देखकर आने जाने वाले राहगीर व बाइक चालक सहम गए। विचित्र मानव की आकृति देखकर भयभीत बाइक सवार बदहवास भागने लगे, तो कुछ राहगीरों ने अपना रास्ता बदल लिया और अपने गंतव्य की ओर जाने लगे।

कौन है यह विचित्र प्राणी ?

यह प्राणी वास्तविक है, विचित्र है, एलियन है या चुड़ैल है इसके बारे में कुछ भी कहना मुश्किल होगा लेकिन इसे देखने के बाद आने जाने वाले राहगीर व बाइक चालक सहम गए हैं I सब अलग-अलग विचारधाराएं
बना रहे हैं।

किसी ने इसे भूत-पिशाच व चुड़ैल कहा तो किसी ने एलियन की संज्ञा दे डाली। लोगों ने यह भी आशंका जाहिर की कि पुल के समीप नदी में शमशान स्थल है। यहां मुर्दे जलाए जाते हैं। साथ ही कब्रगाह भी है, जहां हिन्दुओं द्वारा शव को दफनाया जाता है। लोगों को कहना है कि डैम में डूबकर बहुतों की असामयिक मृत्यु हुई है। शायद उन्हीं में से किसी की आत्मा भटक रही हो। बहरहाल, इस विचित्र मामले को लेकर राहगीरों में खौफ का माहौल है।

हालांकि, इस वीडियो में कितनी सच्चाई है यह कहना अभी मुश्किल होगा I क्योंकि जिन लोगों के द्वारा यह वीडियो वायरल किया गया है वह इस तरह के अंधविश्वास फैलाने में माहिर खिलाड़ी हैं I

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *