आजकल पूरे देश में नए मोटर व्हीकल एक्ट की वजह से चारों ओर खूब तहलका मचा हुआ है. नए मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद से लोगों के काफी भारी भरकम चालान भी कट रहे हैं. वैसे ये नया नियम लागू होने के बाद से पुलिस भी काफी सख्ती से पेश आ रही है. गुजरात से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. कि एक शख्स बिना हेलमेट के मोटर साइकिल चला रहा था. लेकिन जाकिर ने जब पुलिस को pअपनी समस्या बताई तो पुलिस भी हैरान रह गई.

गुजरात का रहने वाला है शख्स

गुजरात के छोटा उदयपुर जिले के बोड़ोली इलाके में रहने वाले जाकिर मेमन को पुलिस ने बिना हेलमेट गाड़ी चलाते हुए रोक लिया. जाकिर के पास गाड़ी से संबंधित सभी कागजात मौजूद थे . लेकिन उसने हेलमेट नहीं पहना था. पुलिस ने उसे जुर्माना भरने को कहा. लेकिन जाकिर ने जब पुलिस को अपनी समस्या बताई तो पुलिस भी हैरान रह गई.जाकिर की समस्या एकदम अलग है। वह कानून का सम्मान करने वाले व्यक्ति हैं. जाकिर की समस्या अनोखी है.

पुलिस वाले नहीं काटते इसका चालान

नए मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद से लोगों के काफी भारी भरकम चालान भी कट रहे हैं. इस सख्ती के बीच गुजरात के छोटा उदयपुर से एक चौकाने वाली घटना सभी के सामने आई थी. आपको बता दें कि यहां इतनी सख्ती के बाद भी जाकिर मेमन नामक एक युवक खुलेआम बिना हेलमेट के सड़कों पर घूमता हुआ पाया गया. बता दें कि जब पुलिस वाले इसका चालान काटने के लिए जाते थे. तो जाकिर मेमन नाम के इस व्यक्ति की समस्या सुनकर के बहुत ही असमंजस में पड़ जाते थे.पुलिस वालों को समझ नही आता था कि इस व्यक्ति का चालान काटा जाए या नही.

पुलिस को बताई हेलमेट न पहनने की वजह

जाकिर मेमन एक पुलिस वाले कि पकड़ में आये. पुलिस वाले ने इन्हें हेलमेट के बिना ही गाड़ी चलाते हुए पकड़ लिया. हालांकि की जाकिर के पास गाड़ी के एवं गाड़ी से संबंधित सभी कागजात मौजूद थे. लेकिन इनके पास हेलमेट नही था.पुलिस वाले ने जाकिर से जुर्माना भरने की बात कहीं, इस पर जाकिर ने अपनी समस्या पुलिस वाले को बताते हुए यह बताया कि वो कोई भी हेलमेट नही पहन सकते हैं. क्योंकि अभी तक उनके सिर की साइज का हेलमेट मार्केट में है ही नहीं तो वह भी कह कर सकते हैं.

हेलमेट की दुकान लेकर गए पुलिस वाले

जाकिर ने पुलिस वाले को बताया कि वे पिछले 12 सालों से इस समस्या के साथ ही गाड़ी चला रहे है . उन्हें कोई भी हेलमेट नही आता.इसके बाद पुलिस वाले जाकिर को अपने साथ आस पास की कई हेलमेट की दुकानों पर लेकर गए. और हर जगह यही नतीजा मिला कि जाकिर के सिर में कोई भी हेलमेट नही आ सका.

जाकिर की इस समस्या पर बोडेली के ट्रेफिक सब इंस्पेक्टर वसंत राठवा का यह कहना है कि,” जाकिर की समस्या एकदम अलग है। वह कानून का सम्मान करने वाले व्यक्ति हैं.जाकिर की समस्या अनोखी है इसलिए अब उनका चालान नही काटते हैं.सभी नियमों का पालन भी करना चाहते हैं. लेकिन अभी तक उसे उनके सिर के साइज का हेलमेट नही मिल सका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *