विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। कोरोनावायरस महामारी संपूर्ण राष्ट्र के लिए चुनौती यह वायरस नवंबर 2019 में चीन की लैब से फैला  था। जो आज पूरी दुनिया को चपेट में ले चुका है। कोरोना वायरस बहुत सूक्ष्म लेकिन प्रभावी वायरस है।,  कोरोना का संक्रमण दुनियाभर में तेजी से फ़ैल रहा है और कोई भी देश अभी तक  इस वायरस को पूरी तरह से नहीं रोक  पाया है। 

क्या है कोरोना वायरस                                                                                                                        

कोरोना वायरस यह एक ऐसा संक्रमण है जो एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति में तेजी से ट्रांसफर होता है। वर्तमान में इस वायरस के लक्षण सर्दी, जुकाम,  बुखार, सुगंध नहीं आना, स्वाद नहीं आना, सांस लेने में तकलीफ होना और गले दुखना इन लक्षणों का हमेशा मतलब यह नहीं है  कि आपको कोरोना वायरस का संक्रमण है। कोरोना वायरस के गंभीर मामलों में निमोनिया, सांस लेने में बहुत ज़्यादा परेशानी, किडनी फ़ेल होना और यहां तक कि मौत भी हो सकती है। बुजुर्ग या जिन लोगों को पहले से अस्थमा, मधुमेह या हार्ट की बीमारी है उनके मामले में ख़तरा गंभीर हो सकता है। ज़ुकाम और फ्लू में के वायरसों में भी इसी तरह के लक्षण पाए जाते हैं। 

क्या हैं इससे बचाव के उपाय                                                                                                               

कोरोना वायरस का अभी तक कोई इला ज नहीं मिला है। सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन कर कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सकता  है सरकार द्वारा बनाई गई  कोरोना गाइडलाइंस का प्रयोग करें।  इनके अनुसार अधिक लोग एक ही स्थान पर इकट्ठा  ना हो, आपस में लोग 3 फीट की दूरी बनाए रखें।, चेहरे पर  मास्क का प्रयोग करें, हाथों को साबुन से धोएं, बाहरी चीजों को खाने से परहेज करें। इन सब नियमों का पालन करके  हम कोरोना  वायरस संक्रमण को फैलने से बचा  सकते हैं।

 क्या है मास्क पहनने का सही तरीका                                                                                                 

अगर आप स्वस्थ हैं तो आपको मास्क की  जरूरत नहीं है। अगर आप किसी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति की देखभाल कर रहे हैं, तो आपको मास्क पहनना होगा।जिन लोगों को बुखार, कफ या सांस में तकलीफ की शिकायत है, उन्हें मास्क पहनना चाहिए और तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए मास्क को ऐसे पहनना चाहिए कि आपकी नाक, मुंह और दाढ़ी का हिस्सा उससे ढंका रहे

क्या है कोरोनावायरस को कम करने के उपाय                                                                                

कोरोना से मिलते-जुलते वायरस खांसी और छींक से गिरने वाली बूंदों के ज़रिए फैलते हैं। अपने हाथ अच्छीतरह धोएं। खांसते या छींकते वक़्त अपना मुंह ढंक लें।हाथ साफ़ नहीं हो तो आंखों, नाक और मुंह को छूने बचें।सार्वजनिक वाहन जैसे बस, ट्रेन, ऑटो या टैक्सी से यात्रा न करें। घर का सामान किसी और से  ना मंगवाए। अगर आप संक्रमित इलाक़े से आए हैं या किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में रहे हैं तो आपको अकेले रहने की सलाह दी जा सकती है। अत: घर पर रहे

One thought on “कोरोना वायरस हैं आने वाले समय की बड़ी मुश्किल इन बातो का ध्यान देकर बचे”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *