तेलंगाना के जनगांव जिले के पेमबर्थी में एक किसान की किस्मत तब चमक उठी जब गुरुवार को उसके बंजर ज़मीन के अंदर समतलीकरण के दौरान सोने से भरा एक बर्तन की आवाज़ सुनाई दी.

किसान नरसिम्हा को खुदाई में लगभग 5 किलो सोने के कीमती आभूषण मिले थे और इनकी कीमत करीब 2 करोड़ रुपये से भी ज्यादा है.

ख़ज़ाने निकलने की बात तो जंगल में आग की तरह फैल उठी और सैकड़ों लोग वहां पर एकत्र हो गए. प्रशासन के लोग भी वहां मौके पर पहुंच गए और अपनी जांच पड़ताल भी शुरू कर दी. सोना बरामद करके निरीक्षण के लिए भेज दिया गया है.

नरसिम्हा ने एक महीने पहले ही 11 एकड़ की यह जमीन खरीदी थी और वह इसकी लेवलिंग करा रहे थे.

बता दे मिले सोने के बर्तन में एक घड़े में सोने की 22 इयर‍िंग , 51 गुंदेलु , 11 पुस्थेलु ,एक 13 ग्राम का नागा पड‍िगेलु, 24 ग्राम की एक छोटी सी सोने की छड़ी भी म‍िली और तो और इसके साथ वहीं चांदी की 26 छड़ी, 5 चेन, 21 स‍िल्वर र‍िंग और 37 अन्य स‍िल्वर आइटम्स भी म‍िले ज‍िनका वजन 42 ग्राम से भी ज्यादा है। इन सबके अलावा 7 रूबी और एक 1 क‍िलो 200 ग्राम का तांबे का कलश भी म‍िला है.

बताया जा रहा है क‍ि यह ख़ज़ाना काकतीय वंश से जुड़ा है. काकतीय साम्राज्य की राजधानी वारंगल हुआ करती थी. जनगांव पूर्व में वारंगल का ही हिस्सा था और हाल ही में यह एक अलग ज़िला बनाया गया है.

इससे पहले जून 2020 में भी तेलंगाना के संगारेड्डी जिले के जहीराबाद में एक किसान को खेत की जुताई करते समय जमीन के नीचे से सोना और ढेर सारे रत्न प्राप्त हुए थे. इन सबके अलावा उस किसान को जमीन के अंदर से और भी कई सारे एंटीक्स मिले थे. ये सभी एंटीक्स पूरी तरह सोने, चांदी और तांबे के हैं.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *