आप “बॉलीवुड का बादशाह” कहे या फिर “किंग खान” या “किंग ऑफ रोमांस” यह सभी नाम बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख खान के हैं, जो उन्हें लोग प्यार से कहते हैं। शाहरुख खान ने अपने फिल्मी करियर में कई किरदार निभाए हैं और वह अपने हर किरदार को बखूबी तरीके से निभाना जानते हैं। शाहरुख खान बॉलीवुड के सर्वश्रेष्ठ एवं सफल अभिनेता हैं, जिन्होंने अपने शानदार अभिनय अंदाज से करोड़ों लोगों के दिलों में अपने लिए एक खास जगह बना ली है।

सोशल मीडिया पर, शाहरुख के परिवार में पत्नी गौरी खान, बेटी सुहाना खान और बेटे आर्यन खान की फोटोज अक्सर वायरल होती रहती हैं।

हालांकि, SRK की बहन शहनाज़ लालारुख खान के बारे में बहुत ज्यादा चर्चा नहीं होती है। शहनाज़ ने हाल ही में तब सुर्खियां बटोरीं, जब वह गेटवे ऑफ इंडिया पर अपने भाई के साथ नजर आईं। फोटो क्लिक होते समय दोनों एक साथ ही मौजूद थे। उनकी तस्वीरें अब सोशल मीडिया पर वायरल हो गई हों।

 

शाहरुख खान की बहन उनसे करीब 6 साल बड़ी हैं और वह लाइमलाइट से दूर रहना पसंद करती हैं परंतु कभी-कभी वह अपने भाई के परिवार के साथ देखी जा चुकी हैं।

बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख खान व उनकी बड़ी बहन शहनाज लालारुख ने अपने जीवन में बहुत दुख देखे हैं। शाहरुख की बहन के जीवन में कुछ ऐसे हादसे घटे हैं, जिन्होंने उनकी बहन को खामोश कर दिया है।

शाहरुख खान की बहन शहनाज लालारुख का जीवन बहुत दुख में व्यतीत हुआ है। साल 1981 में शाहरुख खान के पिताजी की मृत्यु कैंसर की बीमारी से हो गई थी। जिस दिन पिता की मृत्यु हुई थी, उस दिन शहनाज लालारुख घर पर नहीं थीं परंतु जैसे ही वह घर पर वापस आईं तो उन्होंने अपने पिता के मृत शरीर को देखा और वह बेहोश हो गई थीं। पिता की मृत्यु का सदमा शहनाज के दिल दिमाग पर लगा। इस सदमे से वह डिप्रेशन का शिकार हो गई थीं और वह बीमार रहने लगी थीं। उस समय के दौरान शाहरुख खान की उम्र महज 15 वर्ष की थी।

 

शाहरुख खान ने बताया था कि एक दिन जब वह घर लौटे तो उनके पिता ने बताया कि उन्हें कैंसर हो गया है, क्योंकि उस समय वह इस बीमारी की गंभीरता को नहीं जानते थे, तो सभी ने सोचा कि यह ठीक हो जाएगा परंतु ऐसा ना हो सका। महज 3 महीने बाद ही शाहरुख के पिताजी इस दुनिया को छोड़ कर चले गए। उनके निधन से पूरा परिवार सदमे में था। कुछ महीने बाद जब परिवार इस सदमे से उबरने की कोशिश में लगा हुआ था तभी एक और दुखद परिस्थिति जीवन में आ गई। इसी बीमारी की वजह से उनकी मां भी गुजर गईं।

shahrukh khan sister

माता-पिता के निधन के बाद शाहरुख खान और उनकी बहन को गहरा सदमा लगा परंतु शहनाज लालारुख को मां-पिता की मृत्यु का ऐसा सदमा लगा कि उनकी आंखों से आंसू भी ना निकल सके और उन्होंने कई साल गुमसुम रहकर ही व्यतीत कर दिए।

शाहरुख़ ने कहा “दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे” फिल्म की शूटिंग के दौरान उनकी तबीयत फिर से बिगड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए स्विट्जरलैंड ले जाया गया था। शाहरुख खान ने बताया कि मैं उस समय के दौरान “तुझे देखा तो ये जाना सनम” गाने की शूटिंग कर रहा था। उस समय स्विट्जरलैंड में शहनाज का इलाज चल रहा था। इलाज के बाद उनकी हालत पहले से बेहतर हो गई थी लेकिन वह पूरी तरह से ठीक नहीं थी।

आपको बता दें कि शाहरुख खान की बहन शहनाज लालारुख पिता मीर ताज मोहम्मद के बेहद क्लोज थीं। उन्हें मिडल नेम “लाला रुख” उनके पिता ने ही दिया था। इस नाम का मतलब फूल जैसी कोमल और खूबसूरत होता है। जब माता-पिता का निधन हो गया तो उसके बाद सारी जिम्मेदारी शाहरुख खान के कंधों पर आ गई थी। उन्होंने अपनी बड़ी बहन को संभाला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *