मनुष्य जीवन के अमूल्य गुण जो मनुष्य को धनवान बना सकते हैं।

हर मनुष्य के जीवन में गुणों का अत्यधिक महत्व होता है। जिस मनुष्य के पास यह गुण होते हैं। उसे धन दौलत की जरूरत नहीं होती। गुणों से न केवल हमारा शारीरिक विकास होता है बल्कि, मानसिक एवं आध्यात्मिक विकास भी होता है। हर मनुष्य के अंदर यह गुण होना आवश्यक है, एक सफल एवं सुखी जीवन की प्राप्ति में।

परिश्रम व्यक्ति का एक ऐसा गुण है जिसके बिना सफलता प्राप्त करना बहुत ही मुश्किल होता है।अगर व्यक्ति परिश्रमी है, और व्यक्ति में और कोई विशेष गुण ना हो फिर भी वह एक न एक दिन सफलता प्राप्त कर लेता है।

परिश्रम का गुण से साधारण से साधारण व्यक्ति भी किसी भी क्षेत्र में सफलता को प्राप्त कर सकता है। जो मनुष्य मेहनती नहीं होता। वह गलत तरीके से सफलता प्राप्त करने की कोशिश करता है। यही कारण है मेहनत से कमाई हुई सफलता। की कद्र ज्यादा होती है।

बुद्धिमत्ता

बुद्धिमान व्यक्ति वही होता है जो पहले समस्याओं को समझता है फिर उन को हल करने की कोशिश करता है।ऐसे गुण वाले व्यक्ति मुश्किल से मुश्किल समस्याओं का भी समाधान खोज निकाल लेते हैं।

बुद्धिमान व्यक्ति बड़े ही दूरदर्शी होते हैं। उन्हें चीज़ों की बड़ी गहरी समझ होती है। साथ ही ऐसे व्यक्ति किसी भी काम को करने का आसान तरीका खोज निकालते हैं।  बुद्धिमता का यह गुण हमें गलत कार्य करने से रोकता है।

संयम

आजकल संयम बहुत ही कम मनुष्य में देखने को मिलता है, बिना संयम के व्यक्ति कठिन कार्य में सफलता प्राप्त नहीं कर सकता।संयम से ही जीवन में शांति और संतोष का अनुभव होता है। बड़े और कठिन कार्यों में सफलता बिना संयम के प्राप्त नहीं की जा सकती।आज के युग में हर मनुष्य को हर चीज तुरंत चाहिए, भूल जाता है |

कि हर चीज तैयार होने में समय लगता है, परंतु बिना संयम के यह समझना नामुमकिन है।अगर सीधे शब्दों में कहें तो तुरंत कुछ नहीं होता है। संयम का गुण हमें पतन की ओर जाने से बचाता है जिसके पश्चात ही हम सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

सादगी

सादगी हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, यह हमें जीवन की एक नई कला सिखाती है, आजकल लोग पैसा मनचाही जगह पर खर्च कर देते हैं, ऐसा वह दूसरे लोगों को देखकर करते हैं। वह यह नहीं सोचते। कि अगर थोड़ा पैसा बच जाए तो मुसीबत समय में काम आएगा। लेकिन जिन व्यक्तियों के बाद सादगी का गुण होता है, उन मनुष्यों को यह सब कुछ बताने की जरूरत नहीं होती।

सादगी का गुण रखने वाले लोग काम की वस्तुओं के उपभोग में अपना काम चलाते हैं। वह केवल अपनी जरूरत भर लेते हैं। यह लोग अपने इसी स्वभाव के कारण प्रकृति के लिए लाभदायक साबित होते हैं।

आज्ञाकारिता

आज्ञाकारिता मनुष्य का एक बहुत ही बड़ा गुण है, किसी भी चीज को हासिल करने के लिए यह गुण होना आवश्यक है, परंतु आज के समय में यह गुण बहुत ही कम लोगों में देखने को मिलता है। इसी वजह से आजकल बच्चे अपनी मनमानी करते हैं, वह मां बाप की भी नहीं सुनते। किन्तु जीवन में सफल होने के लिए एवम किसी भी कार्य की पूर्ति के आज्ञाकारिता का गुण चाहिए होता है।

यदि व्यक्ति अपने बड़ों की आज्ञा का पालन करें और उस मार्ग पर चलें तो वह अपने मार्ग से कभी भी विचलित नहीं होता ज्यादा कामयाबी के मार्ग पर अग्रसर होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *