Sunny Deol

अभिनय एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें नाम कमाना बहुत कठिन है। लोग यहां सफलता की चाह में आते हैं, लेकिन कुछ समय ही सफलता के कार्यक्रम को जारी रख पाते हैं।

आज हम बात करेंगे उन व्यक्ति की, जिनके नाम पर बॉलीवुड में दस वर्ष का दौर चला और उस दौर में उनके और गोविंदा को छोड़कर शायद ही किसी की फिल्म चला करती थी। बॉलीवुड के असली ‘एंग्री यंग मैन’ अजय सिंह देओल उर्फ ​​सनी देओल, जो एक समय पूरे खान तिकड़ी को अकेले ही हराने और जीतने का दम रखते थे।

सनी देओल का जन्म 19 अक्टूबर, 1956 को हुआ था। वह आज की तारीख में पंजाब राज्य के गुरदासपुर (लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र) से एक भारतीय सांसद हैं, इसके साथ वह फिल्म अभिनेता, निर्देशक और निर्माता हैं।

सनी देओल का दौर

सनी देओल की फिल्में आमजनों से लेकर खास तक, सभी को पसंद आती थी। सनी देओल ने फिल्मों में अपनी शुरुआत अमृता सिंह के साथ बेताब (1983) में की थी और अपनी पहली फ़िल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार के लिए नामांकित भी किया गया था।

इसके बाद, उन्होंने 1980 और 1990 के दशक में कई सफल फिल्मों में अभिनय किया। 1990 में राजकुमार संतोषी की फिल्म ‘घायल’ में एक शौकिया मुक्केबाज के अपने चित्रण के साथ, देओल ने व्यापक पहचान और प्रशंसा प्राप्त की ।

‘दामिनी’ फिल्म में एक वकील के उनके चित्रण के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के तौर पर राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और ‘सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता’ के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

अनिल शर्मा की “गदर: एक प्रेम कथा (2001), जिसमें देओल ने एक लॉरी चालक को चित्रित किया था, रिलीज के समय सबसे ज्यादा कमाई करने वाली बॉलीवुड फिल्म थी। इसके बाद ‘यमला पगला दीवाना’ समेत तमाम फिल्मों में उन्होंने अपने अभिनय का जलवा दिखाया है।

एक सफल राजनीतिक जीवन

सनी देओल 23 अप्रैल 2019 को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। उन्होंने गुरदासपुर निर्वाचन क्षेत्र से 2019 का लोकसभा चुनाव भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अपने प्रतिद्वंद्वी सुनील जाखड़ के खिलाफ 82,459 मतों के अंतर से जीता है।

सनी पिछले कुछ सालों से अपने राजनीतिक करियर में व्यस्त हैं। वह गुरदासपुर निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित सांसद हैं और पंजाब में आने वाले दिनों में वह नवजोत सिंह सिद्धू जैसे को धूल में मिलाने का दम रखते हैं।

आमतौर पर स्टार किड्स को नीची नजर से देखा जाता है। हालाँकि, सनी देओल उन दुर्लभ लोगों में से एक हैं, जो अपने ही पिता धर्म सिंह देओल उर्फ ​​धर्मेंद्र के जितने लोकप्रिय हुए और अपनी अलग पहचान बनाने में सफल हुए।

गुरदासपुर के सांसद, सनी देओल फिल्मों में एक मजबूत वापसी की योजना बना रहे हैं। R Balki’s की ‘चुप’ में मलयालम सुपरस्टार दुल्कर सलमान के साथ सहयोगी अभिनेता और ‘गदर’ की अगली कड़ी लाकर वह धमाल मचाने को तैयार हैं। सनी देओल आगामी फिल्म “अपने 2” से बॉलीवुड में वापसी करेंगे, जिसमें वह धर्मेंद्र और बॉबी देओल के साथ फिर से जुड़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *