दोस्तों अभी तक आपने जासूसी के नाम पर कई नाम सुने होंगे. लेकिन आज हम जिस जासूस के बारे में बात कर रहे हैं एक महिला जासूस है. जो जितनी खतरनाक है उससे ज्यादा खूबसूरत है. जासूस बनना कोई छोटे-मोटे का काम नहीं है.

जासूस बनने के लिए लीडर होना जरूरी है. आज एक ऐसी महिला के बारे में बताइए .जिसने अपनी जाति से बिना हाथ लगाए कई सैनिकों को मार गिराया..

जाने दुनिया की सबसे खूबसूरत जासूस कौन थी?

दुनिया में जब भी किसी महिला जासूस का नाम लिया जाता है, तो सबसे पहले नीदरलैंड की महिला जासूस तोइस का नाम लिया जाता है.जासूसी के मामले में तोइस मर्दों से कई गुना तेज थी. लोग इस जासूस को माता हारी के नाम से जानते हैं.

नीदरलैंड में जन्मी माता हारी का जन्म 1876 में हुआ था. चीन का असली नाम गेरत्रुद मार्गरेट जेले था. यह पेरिस में पली बढ़ी हुई थी. बचपन से जिन्हें जासूसी के काम करने का जुनून सवार था. जासूसी के साथ खूबसूरती के मामले में किसी महिला से कम नहीं थी. उनकी खूबसूरती को देखकर किसी को यह शक भी नहीं होता था कि यह इतनी भी खतरनाक हो सकती है.

ये महिला जासूस अपने हुस्न और तेज दिमाग के बल पर दुनिया पर राज करती थी.जासूसी करना भी अपने आप में एक अच्छा पेशा होता है .जासूस बनने के लिए बुद्धिमान और निडर होना जरूरी होता है. इस पेशे में कदम कदम पर खतरे मंडराते रहते हैं. अपने काम को अंजाम देते समय कई लोग आपकी जान के दुश्मन बन जाते हैं. आमतौर पर जब भी बड़े बड़े जासूसों की चर्चा होती है. तो सबसे पहले नीदरलैंड की महिला जासूस तोइस का नाम लिया जाता है.

माता हारी के मरने के बाद के रहस्य भी अजीब थे. उनकी मौत के बाद भी इनके शरीर को मेडिकल द्वारा चिरफाड करवाया गया. और इनके चेहरे को एनाटॉमी म्यूजियम में रखा गया. बाद में माता हारी के जीवन पर एक फिल्म बनाई गई .जिसमें उनका रोल अभिनेत्री ग्रेटा गर्बो लीड द्वारा किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *