दोस्तों हो सकता हैं ये ख़बर पढ़ कर आपको थोड़ी अटपटी लगे पर कई मायने में सुच हैं. सालो पहले बंद हुए टेलीविजन की डिमांड एक दम से बढ़ने के कई कारन हैं. आज हम इस लेख में आपको बताएंगे की कैसे आप भी टेलीविजन को बेच के लखपति बन सकते हो.

जैसे ही ख़बर सोशल मीडिया पर आई लोग कबाड़ियों के पास पहुँचने लगे. लोगों का ये मानना था कि इसमें एक लाल रंग की ट्यूब होती हैं जो की काफ़ी महंगी हैं और लोगों ने बहुत सारे टेलीविजन घर में स्टोर करके रख लिए हैं. एक्सपर्ट्स का ये मानना हैं कि ऐसी कोई ट्यूब नहीं हैं जो इतनी महंगी हो और जिसको वापस न बनाया जा सके.

पर फिर लोग इसको इतना महंगा क्यों करोड़ रहे हैं. हमारी टीम ने पूरे मामले का बारीकी से निरिक्षण किया और पाया की इसके पीछे कुछ और कारन हैं जो टेलीविजन की डिमांड एकाएक बढ़ा रहा हैं. हमने एक टीवी कारोबारी से बात की उसका कहना हैं कि यदि टीवी में इतनी मॅहगी कोई चीज होती तो बहुत साड़ी कंपनी बंद नहीं होती. तो ऐसा कुछ नहीं हैं जिसके कारण ऐसा हो रहा हैं.

फिर भी टीवी इतने महंगे क्यों बिक रहे हैं. क्यों की जैसे ही ख़बर मिली लोगों ने बहुत सारे लोग कबाड़ियों से संपर्क कर चुके हैं और वह इस तरीके के टीवी लेके दूसरे लोगों को बड़े दामों में बेच चुके हैं.

क्या हैं रेड ट्यूब

1950 के दशक से सीआरटी (कैथोड रे ट्यूब) का उपयोग टेलीविजन और कम्प्यूटर स्क्रीन में होता रहा है. यह एक विशेष वैक्यूम ट्यूब है जिसमें इलेक्ट्रॉन बीम होने पर छवियाँ उत्पन्न होती हैं. टेलीविजन. कम्प्यूटर मॉनिटर की टेलर मशीन. वीडियो गेम मशीन. वीडियो कैमरा में इस ट्यूब का उपयोग होता है. अब सीआरटी का बाज़ार घट रहा है क्योंकि यह एक पुरानी और अत्यधिक ऊर्जा खपत करने वाली तकनीक है.

जब हमने पड़ताल की तो पता चला की कुछ लोगों को पुराणी चीजों का शोक होता हैं और वह एंटीक चीजे खरीदना पसद करते हैं. तो ऐसे लोग पुराणी चीजों को बड़े दामों में ले लेते हैं. एंटीक चीजे वह होती हैं जो बहुत पुराणी और तकनिकी रूप से पुरानी हो. इसके टीवी के आलावा बहुत साड़ी चीजे आती हैं जिन्हे आप ऑनलाइन वेबसाइट पर बेच कर अच्छा पैसा कमा सकते हो.

यदि आपके पास फर्नीचर. आभूषण. पुस्तकें. फ़िल्म-संगीत एलबमों से जुड़ी यादें. हस्तशिल्प. कलाकृतियाँ. पोशाक. नक्काशीदार बर्तन. घड़ियाँ. टेलीफोन. रेडियो. ऐतिहासिक महत्त्व के खिलौने आदि हैं तो भी आप ऑनलाइन बेच कर अच्छे दाम ले सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *