मध्य प्रदेश के विदिशा जिले एक ऐसा चौंका देने वाला हादसा हुआ। जिसके सुनकर लोग हैरान है कि क्या ऐसा भी हो सकता है। घटना कुछ इस प्रकार से है जब 23 मई के दिन सबकी निगाहें लोकसभा चुनाव के परिणाम पर टिकी हुई थीं। तभी विदिशा के सिरोंज शहर की एक दुल्‍हन को पंडित लेकर फरार हो गया, जिसने विवाह मंडप में मंत्र पढ़कर फेरे लगवाए थे।

जानकारी के मुताबिक युवती की शादी 7 मई को बासौदा के आसठ गांव में रहने वाले युवक से हुई थी। बारात आऩे पर इसी गांव के विनोद महाराज नामक पंडित नें दोनों की शादी करायी। शादी के मंत्र पढ़े, और फेरे करवाए। फिर शादी के बाद लड़की की विदाई कराकर उसे ससुराल भेज दिया गया। शादी के बाद दुल्हन जब पहली बार मायके आई तो फिर उसी पंडित के साथ फरार हो गई।

पंडित को 23 मई को भी करनी थी शादी
इस दौरान 23 मई को गांव के समीप ही एक शादी समारोह था। लोग इस के कार्यक्रम में सम्मलित होने के लिए काफी व्‍यस्‍त थे। खास बात यह है कि इस पंडित को भी इस शादी में फेरे की रस्में पूरी करवाने का कार्यभार सौपां गया था।लेकिन, शादी की रस्‍म शुरू होने के पहले ही वह वहां से भाग गया। जब लोगों ने उसकी खोजबीन की तो पता चला कि पंडित के साथ वह युवती भी घर से गायब है।

पहले से है शादीशुदा
काफी खोजबीन के बाद भी जब दोनों का कुछ पता नहीं चला, उसकी शिकायत पुलिस में दर्ज करायी गई। जिसके बाद जांच शुरू की। जांच के दौरान यह पता चला कि फरार हुआ पंडित विनोद पहले से शादीशुदा है। परिवार में उसकी पत्‍नी के अलावा दो बच्‍चे भी हैं। घटना वाले दिन से उसका पूरा परिवार भी गायब है। गांव वालों का कहना है कि विनोद और नवविवाहित युवती के बीच करीब 2 साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *