गुजराती सिनेमा से अपने फिल्मी सफर की शुरुआत करने वाले अभिनेता परेश रावल, वो अदाकार हैं, जिनकी कामयाबी का सफर 1980s के दौर में जो शुरु हुआ, तो साड़े तीन दशक बीत गए, पर उनकी प्रसिद्धी कम नहीं हुई। ज्यादातर फिल्मों में सहायक किरदार में नजर आने वाले परेश ने हमेशा अपने छोटे से किरदार की भी दर्शकों के बीच छाप छोड़ी हैं।

परेश का जलवा कुछ ऐसा रहता हैं, कि भले ही फिल्म फ्लोप हो जाए पर उनका किरदार लोगों के ज़हन में रह जाता हैं। आज परेश बॉलीवुड के साथ साथ राजनीति में भी अपने कदम जमा चुके हैं और उनकी सम्पत्ति भी आसमान छू रही हैं।

फिल्में, कमाई और अवार्ड्स

चाहे कॉमेडी हो या गंभीर किरदार, परेश रावल ने अपने करियर में हर तरह के अभिनय से अपने नाम का डंका बजवाया हैं। बॉलीवुड में उनकी एन्ट्री साल 1985 में फिल्म ‘अर्जुन’ से हुई। परेश ने ‘हेरा फेरी’ ‘फिर हेरा फेरी’ (40 करोड़), ‘भूल भुलैया’ (49 करोड़), ‘वेलकम’ (70 करोड़),’उड़ी’ (244 करोड़), ‘एक था टाइगर’ (399 करोड़) और ‘ओह माय गॉड’ (81 करोड़) जैसी बड़ी फिल्मे की हैं।

उन्होंने अबतक 250 से भी ज्यादा फिल्मो में काम किया हैं, इसमे बॉलीवुड के अलावा, क्षेत्रीय भाषाओं की भी फिल्में शामिल हैं।

परेश रावल, अपने साथ कॉमेडी का एक नया स्वरूप लेकर आए थे, जोकि आम लोगों और आम ज़िन्दगी से मेल खाता था। बाबु भैया के नाम से प्रख्यात, परेश की कॉमेडी फिल्मों को आज भी युवाओं के बीच काफी पसंद किया जाता हैं। उन्हें अपने शानदार अभिनय के लिये तीन बार फिल्मफेयर अवार्ड से नवाजा गया हैं। इसके अलावा उन्हें एक बार नेशनल अवार्ड और पद्म श्री से भी सम्मानित किया गया हैं।

राजनैतिक सफर

परेश रावल भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता हैं। 2014 – 2019 तक वे गुजरात के अहमदाबाद पूर्व से लोक सभा सांसद रहे हैं। उन्हें कई बार जनता के बीच रोड शोस और रैलियाँ करते देखा गया हैं। परेश को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित भाजपा के कई नेताओं के साथ भी देखा गया हैं।

नेट वर्थ और अन्य असेट्स

‘ओह माय गॉड’ के मिडल क्लास व्यापारी कांजीलाल यानी परेश रावल की असल ज़िन्दगी में कमाई करोड़ो में हैं। परेश की कुल नेट वर्थ ₹95 करोड़ ($13 मिलियन) हैं। वे अपनी हर एक फिल्म के लिये ₹3 करोड़ बतौर फीस लेते हैं।

परेश की गाड़ियों की पूरी जानकारी पब्लिक नहीं हैं, पर उन्हें कई बार अपनी टोयोटा और होन्डा में देखा गया हैं। इसके अलावा परेश के अन्य असेट्स की बात करे तो, मुंबई में परेश का एक आलिशान घर हैं। परेश के परिवार में उनकी पत्नी अभिनेत्री स्वरूप, और उनके दो बेटे अनिरुद्ध रावल और आदित्य रावल हैं।

परेश रावल को पॉलीकेब वायर्स, कोका कोला और डोमिनोस पिज्जा के विज्ञापन में भी देखा गया हैं।

परेश रावल की कामयाबी, इस बात का सबूत हैं, कि इंडस्ट्री में अपना नाम बनाने के लिये सिर्फ अच्छी सूरत और बड़ा फैमली बैकग्राउंड जरुरी नहीं हैं, बल्की अच्छा अभिनेता होना जरुरी हैं। साथ ही, लोगों के दिलो में राज करने के लिये, मुख्य अभिनेता होना नहीं बल्कि अच्छा कलाकार होना जरुरी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *