म्यूजिक शो इंडियन आइडल के जाने-माने फेम सवाई भाट आजकल समाचार खबरों की फिर से सुर्खियां बटोर रहे हैं, लेकिन इस बार यह खबरें सवाई भाट के सिंगिंग टैलेंट की तारीफ ना करने वाली होकर बल्कि सवाई भाट के नाम का प्रयोग करके ऑनलाइन होने वाली ऑनलाइन ठगी का प्रसारण कर रही है।

सवाई भाट राजस्थान के रहने वाले हैं और इंडियन आईडल म्यूजिक शो के फेमस कंटेस्टेंट है, जिन्होंने अपनी आवाज से लाखों लोगों को दीवाना कर दिया है सवाई भाट एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं और उन्होंने काफी संघर्ष करके इंडियन आईडल तक का अपना सफर पूरा किया है।

 

लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि कुछ अराजक तत्व सवाई भाट का नाम प्रयोग करके और उनकी कहानी को मासूम लोगों को दिखाकर लोगों से सवाई भाट को मदद करने के नाम से लाखों रुपए लूट रहे हैं। सवाई भाट ने न्यूज़ एजेंसी से बात करते हुए यह बताया कि उन्हें सोशल मीडिया अकाउंट पर उनके फेक अकाउंट होने की जानकारी तो काफी पहले से थी पर उन्होंने इस पर कभी ज्यादा ध्यान नहीं दिया लेकिन जब उनको यह मालूम चला कि कुछ अराजक तत्व उनके नाम का प्रयोग करके मासूम लोगों से पैसे लूट रहे हैं तो उन्होंने लोगों को जागरूक करने का फैसला किया।

आपको बता दें कि सवाई भाट राजस्थान के नागौर जिले में रहने वाले हैं, जहां पर वह अपने पिता के साथ मिलकर कठपुतली का खेल और लोकगीत का प्रदर्शन करके देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों का मनोरंजन करके अपनी जीविका कमाते थे। इंडियन आइडल ने उनके टैलेंट को पहचाना और उनको म्यूजिक का सबसे बड़ा प्लेटफार्म दिया ,जिसने सवाई भाट की किस्मत रातों-रात बदल दी और वह लाखों लोगों के दिल के चहेते बन गए हैं।

 

कैसे हो रहा है सवाई भाट के नाम पर ऑनलाइन ठगी का खेल

केस 1

एक ऑनलाइन ठग ने सवाई भाट के दोस्त को मैसेज करके कहा कि जब से सवाई भाट इंडियन आईडल शो से बाहर हुए हैं ,तब से वह पैसों की तंगी झेल रहे हैं और उन्हें पैसों की जरूरत है। इस तरह उस ठग ने सवाई भाट के दोस्त को इमोशनल ब्लैकमेल करके काफी रुपए लूट लिए।

केस 2

इस केस में ऑनलाइन ठग सवाई भाट का रिश्तेदार बन जाता है जो खुद लोगों को फोन करके बताता है कि सवाई घाट कैसे मुश्किलों में अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं और उनको धन की कितनी ज्यादा आवश्यकता है जिसको सुनकर उनके फैंस, दोस्त उनकी मदद करने के लिए तैयार हो जाते हैं और ठगों की जाल में फंस जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *