भारत में प्रीपेड यूजर्स बड़ी संख्या में हैं I आप भी हर महीने या तीन महीने में एक बार रिचार्ज ज़रूर कराते होंगे I लेकिन, क्या कभी रिचार्ज करते वक्त सोचा है कि रिचार्ज प्लान 28, 56, 84 दिनों की वैलिडिटी के साथ ही क्यों आते हैं? 30 दिन का रिचार्ज क्यों नहीं होता I कुछ कंपनियां तो 24 दिन की वैलिडिटी भी ऑफ़र करती हैं I क्या कभी कंपनी से इसका जवाब मांगा है?

टेलिकॉम कंपनियों के लिए 28 दिन गणित कुछ ऐसा है

टेलिकॉम कंपनियों द्वारा 28 दिन को महीना मानने के पीछे की वजह यह है कि एक साल 13 महीने का हो जाता है I अगर आप हर 28 दिन को 1 महीना मानकर चलते हैं तो 1 साल में 12 के बजाय 13 महीने हो जायेंगे I 1 साल में 7 महीने ऐसे होते हैं, जिनमें 31 दिन होते हैं I 28 दिन के महीने के हिसाब से हर महीने में से 3 दिन शेष बच जाते हैं I

प्रति महीने के हिसाब से (7×3) = 21 दिन हो जाएंगे I साल में 4 महीने ऐसे होते हैं, जो 30 दिन के होते हैं. इनमें से भी 2 दिन हर महीने शेष रह जाते हैं I प्रति महीने के हिसाब से (2×4) = 8 दिन हो जाएंगे I अगर फ़रवरी 29 दिन का है तो ऐसे में (21+ 8 +1) = 30 दिन होते हैं I

 पहले ये वैधता 30 दिन ही होती थी। फिर किसी ने अपने दिमाग़ का उपयोग किया और इसे 28 दिन कर दिया। अगर वैधता 30 दिन है तो आप एक साल में 12 बार रीचार्ज करवाएँगे, और अगर वैधता 28 दिन है तो आपको 13 बार रीचार्ज करना पड़ेगा। इससे मोबाइल सर्विस कम्पनी को एक महीने का एक्स्ट्रा रीचार्ज का अमाउंट मिल जाएगा।

क्या आपने सोचा है। जब 1 एक ग्राहक 1 साल में एक ज्यादा रिचार्ज कराता है तो पूरे देश में कितने ग्राहक होंगे। आप ही जोड़ लीजिए कितना पैसा एक्स्ट्रा कमाया जा रहा है टेलीकॉम कंपनियों के द्वारा ग्राहकों को बेवकूफ बनाकर, अब आपको 30 की जगह 28 की गणित समझ में आ गई होगी।

TRAI जल्द ही कुछ अच्छा फैसला लेगी।

टेलीकॉम ऑपरेटर यहीं पर ग्राहकों के साथ खेल कर जाते हैं I इसका साफ़ सा मतलब है कि 28 दिन का रिचार्ज प्लान देकर टेलीकॉम ऑपरेटर्स को पूरा महीने का फायदा होता है I इसी साल अप्रैल में आमने आई कुछ रिपोर्ट्स में ये दावा किया गया था कि यूजर्स की समस्याओं पर टेलीकॉम रेगुलेटर TRAI जल्द ही एक कंसल्टेशन पेपर जारी कर सकता है I अगर TRAI के सभी स्टेकहोल्डर्स एकमत राय देते हैं तो TRAI रिचार्ज प्लान 24 दिन, 28 दिन, 56 दिन और 84 दिन की वैलिडिटी के बजाय पूरे 30 दिनों की वैलिडिटी मिलने लगेगी I

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *